वद् (बोलना) धातु के रूप - Vad Dhatu Roop - संस्कृत

Vad Dhatu

वद् धातु (बोलना, to speak): वद् धातु भ्वादिगणीय धातु शब्द है। अतः Vad Dhatu के Dhatu Roop की तरह वद् जैसे सभी भ्वादिगणीय धातु के धातु रूप (Dhatu Roop) इसी प्रकार बनाते है।
वद् धातु का गण (Conjugation): भ्वादिगण (प्रथम गण - First Conjugation)
वद् का अर्थ: वद् का अर्थ बोलना, to speak होता है।

वद् के धातु रूप (Dhatu Roop of Vad) - परस्मैपदी

वद् धातु के धातु रूप संस्कृत में सभी लकारों, पुरुष एवं तीनों वचन में वद् धातु रूप (Vad Dhatu Roop) नीचे दिये गये हैं।

1. लट् लकार - वर्तमान काल

पुरुष एकवचन द्विवचन वहुवचन
प्रथम पुरुष वदति वदत: वदन्ति
मध्यम पुरुष वदसि वदथः वदथ
उत्तम पुरुष वदामि वदावः वदामः

2. लोट् लकार - अनुज्ञा

पुरुष एकवचन द्विवचन वहुवचन
प्रथम पुरुष वदतु वदताम् वदन्तु
मध्यम पुरुष वद वदतम् वदत
उत्तम पुरुष वदानि वदाव वदाम

3. लङ् लकार - भूतकाल

पुरुष एकवचन द्विवचन वहुवचन
प्रथम पुरुष अवदत् अवदातम् अवदन्
मध्यम पुरुष अवदः अवदतम् अवदत
उत्तम पुरुष अवदम् अवदाव अवदाम

4. विधिलिङ् लकार - चाहिए के अर्थ में

पुरुष एकवचन द्विवचन वहुवचन
प्रथम पुरुष वदेत् वदेताम् वदेयुः
मध्यम पुरुष वदेः वदेतम् वदेत
उत्तम पुरुष वदेयम् वदेव वदेम

5. लृट् लकार - भविष्यत्

पुरुष एकवचन द्विवचन वहुवचन
प्रथम पुरुष वदिष्यति वदिष्यतः वदिष्यन्ति
मध्यम पुरुष वदिष्यसि वदिष्यथः वदिष्यथ
उत्तम पुरुष वदिष्यामि वदिष्यावः वदिष्यामः
संस्कृत में शब्द रूप देखने के लिए Shabd Roop पर क्लिक करें और नाम धातु रूप देखने के लिए Nam Dhatu Roop पर जायें।