स्वनज् धातु के रूप - Svanaj Dhatu Roop - संस्कृत

Svanaj Dhatu

स्वनज् धातु (आलिङ्गन् करना, to embrace): स्वनज् धातु भ्वादिगणीय धातु शब्द है। अतः Svanaj Dhatu के Dhatu Roop की तरह स्वनज् जैसे सभी भ्वादिगणीय धातु के धातु रूप (Dhatu Roop) इसी प्रकार बनाते है।
स्वनज् धातु का गण (Conjugation): भ्वादिगण (प्रथम गण - First Conjugation)
स्वनज् का अर्थ: स्वनज् का अर्थ आलिङ्गन् करना, to embrace होता है।

स्वनज् के धातु रूप (Dhatu Roop of Svanaj) - परस्मैपदी

स्वनज् धातु के धातु रूप संस्कृत में सभी लकारों, पुरुष एवं तीनों वचन में स्वनज् धातु रूप (Svanaj Dhatu Roop) नीचे दिये गये हैं।

लट् लकार (वर्तमान काल)

पुरुष एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथम पुरुष स्वजते स्वजेते स्वजन्ते
मध्यम पुरुष स्वजसे स्वजेथे स्वजध्वे
उत्तम पुरुष स्वजे स्वजावहे स्वजामहे

लृट् लकार (भविष्यत्, Second Future Tense)

पुरुष एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथम पुरुष स्वंक्ष्यते स्वंक्ष्येेते स्वंक्ष्यन्ते
मध्यम पुरुष स्वंक्ष्यसे स्वंक्ष्येेथे स्वंक्ष्यध्वे
उत्तम पुरुष स्वंक्ष्येे स्वंक्ष्यावहे स्वंक्ष्यामहे

लोट् लकार (अनुज्ञा, Imperative Mood)

पुरुष एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथम पुरुष स्वजताम् स्वजेताम् स्वजन्ताम्
मध्यम पुरुष स्वजस्व स्वजेथाम् स्वजध्वम्
उत्तम पुरुष स्वजै स्वजावहै स्वजामहै

लङ् लकार (भूतकाल, Past Tense)

पुरुष एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथम पुरुष अस्वजत अस्वजेताम् अस्वजन्त
मध्यम पुरुष अस्वजथाः अस्वजेथाम् अस्वजध्वम्
उत्तम पुरुष अस्वजे अस्वजावहि अस्वजामहि
संस्कृत में शब्द रूप देखने के लिए Shabd Roop पर क्लिक करें और नाम धातु रूप देखने के लिए Nam Dhatu Roop पर जायें।