पद (Phrases) (Pad Parichay) - पद क्या होता है ?


पद परिचय-

वाक्य में प्रयुक्त शब्द को पद कहा जाता है वाक्य में प्रयुक्त शब्दों में संज्ञा , सर्वनाम , विशेषण , क्रिया विशेषण , संबंधबोधक आदि अनेक शब्द होते हैं। पद परिचय में यह बताना होता है कि इस वाक्य में व्याकरण की दृष्टि से क्या-क्या प्रयोग हुआ है।

पद परिचय के आवश्यक संकेत


  1. संज्ञा – संज्ञा के भेद (जातिवाचक व्यक्तिवाचक भाववाचक) ,
  2. लिंग ( पुल्लिंग स्त्रीलिंग)
  3. वचन( एकवचन बहुवचन)
  4. कारक तथा क्रिया के साथ संबंध
  5. सर्वनाम – सर्वनाम के भेद (पुरुषवाचक , निश्चयवाचक , अनिश्चयवाचक , प्रश्नवाचक , संबंधवाचक , निजवाचक)
  6. लिंग वचन कारक क्रिया के साथ संबंध
  7. विशेषण – विशेषण का भेद (गुणवाचक ,संख्यावाचक ,परिमाणवाचक,सार्वनामिक)
  8. विशेष्य लिंग वचन
  9. क्रिया – क्रिया का भेद (अकर्मक , सकर्मक , प्रेरणार्थक , संयुक्त , मुख्य सहायक)
  10. वाक्य लिंग वचन काल धातु
  11. अवयव – अवयव का भेद( क्रिया , विशेषण , संबंधबोधक , समुच्चयबोधक , विस्मयादिबोधक , निपात) जिस क्रिया की विशेषता बताई जा रही है उसका निर्देश , समुच्चयबोधक , संबंधबोधक , विस्मयादिबोधक , भेद तथा उसका संबंध निर्देश आदि बताना होगा।


पद परिचय कुछ उदाहरण के साथ 

1-श्याम स्कूल जाता है
श्याम – व्यक्तिवाचक संज्ञा पुलिंग एकवचन कर्ता कारक
स्कूल – जातिवाचक संज्ञा पुलिंग एकवचन कर्म कारक
जाता है – क्रिया सकर्मक क्रिया पुलिंग एकवचन वर्तमान काल

2- वह सेब खाता है
वह -पुरुषवाचक सर्वनाम अन्य पुरुष एकवचन पुल्लिंग कर्ता कारक
सेब – जातिवाचक संज्ञा एकवचन पुल्लिंग कर्म कारक
खाता है – सकर्मक क्रिया एकवचन पुल्लिंग कृत वाच्य वर्तमान काल

3- राजेश वहां दसवीं कक्षा में बैठा है
राजेश – संज्ञा व्यक्तिवाचक संज्ञा पुलिंग एकवचन कर्ता कारक
वहां – स्थानवाचक क्रिया विशेषण बैठा है क्रिया का स्थान निर्देश
दसवीं – संख्यावाचक विशेषण स्त्रीलिंग एकवचन
कक्षा में – जातिवाचक संज्ञा स्त्रीलिंग एकवचन अधिकरण कारक बैठा क्रिया से संबंध
बैठा है – अकर्मक क्रिया पुलिंग एकवचन अन्य पुरुष कृत वाच्य

केवल रेखांकित पदों का व्याकरणिक परिचय दीजिए

1- यह  पुस्तक मेरी है।
यह –  सार्वनामिक विशेषण , एकवचन , स्त्रीलिंग
2- ‘कल’ हमने ‘ताजमहल’ देखा ।
कल -कालवाचक क्रिया विशेषण
ताजमहल – जातिवाचक संज्ञा , एकवचन , पुल्लिंग , कर्म कारक
3- गीता ने पुस्तक ‘पढ़ ली
सकर्मक क्रिया , स्त्रीलिंग , एकवचन , भूतकाल
4- ‘जल्दी’ चलो गाड़ी जाने वाली है
अवयव , क्रिया विशेषण , ‘चलो’ क्रिया की विशेषता
5-  उपवन में ‘सुंदर’ फूल खिले हैं
गुणवाचक विशेषण , पुल्लिंग , बहुवचन , फूल विशेष्य

अन्य लेख पढ़ें !


हिन्दी व्याकरण -
भाषा वर्ण शब्द पदवाक्य संज्ञा सर्वनाम विशेषणक्रिया क्रिया विशेषण समुच्चय बोधक विस्मयादि बोधक वचन लिंग कारक पुरुष उपसर्गप्रत्यय संधिछन्द समास अलंकाररस श्रंगार रस विलोम शब्द पर्यायवाची शब्द अनेक शब्दों के लिए एक शब्द
Subject Wise Study : ➭ Click Here


Updated On:
Published On: 2018-09-16
Author:

MY COACHING
WWW.MYCOACHING.IN
We Post: Jobs News, Education News, Study Material, Khetibadi Query |
Sarkari Result and Online Taiyari