खसरा खतौनी ऑनलाइन कैसे चेक करे ? गाटा नंबर, करंट खतौनी, भूलेख, Khasra Khatauni, Bhoolekh Up

राजस्व विभाग उत्तर प्रदेश के खसरा खतौनी के प्रमाणित करने के लिए लिंक उपलब्ध है. यहाँ पर आप भूमि का रिकॉर्ड Bhulekh Up, भूमि का नक्सा, चेक कर सकते है और डाउनलोड कर सकते है।

Board of Revenue, Uttar Pradesh

Khasara Khatoni Online Verification 2019 - 2020

pramanit khatauni - प्रमाणित खतौनी


How to Verify Bhulekh Up:


1- पेज को नीचे स्क्रोल करे.
2- किसी एक लिंक old server या new server वाले लिंक पर क्लिक करे.
3- अपने जिले का नाम पर क्लिक करें
bhulekh
Selecting District

4-तहसील का नाम भरें
bhulekh up
Selecting Tehsil

5-अपने गावं का नाम /  मौजे का नाम  / Area Name/ चुने ! यदि दिखाई नहीं पड़ रहा तो.. अपने गावं का नाम /  मौजे का नाम  / Area Name का पहला अक्षर चुने .
khatauni
Selecting Village or Area

6-अपना खसरा no भरें, खसरा नंबर भरने के लिए वेबसाइट के कीबोर्ड का प्रयोग करे, उसके बाद खोजे पर क्लिक करे, फिर नीचे जो no लिख कर आयेगा  जैसा की फोटो में है 1257 : 000492   पर क्लिक करे फिर उद्हरण देखे पर, क्लिक करने के बाद आपकी खतौनी अआपके सामने होगी.
khasra khatoni
filling khasra khatauni No



    भूमि का रिकॉर्ड चेक करे:


    1- Up Khasara, UP Bhulekh or Bhulekh Up 2- Khatauni, 3- BhuNaksha, 4- Land Map, and 5- More Online Verification 2019- 2020

    करंट खतौनी - Current Khatauni:

    यदि आपका भूमि का माप गलत दिखाई दे रहा है तो आप तहसील में तुरंत संपर्क करे !

    सरकारी रिजल्ट खसरा खतौनी : sarkari result khatauni

    Important Links for Khasara Khatauni Uttar Pradesh:

    खसरा, खतौनी ऑनलाइन चेक करे-

    Click Here (new server)

    भूमि का रिकॉर्ड चेक करे-

    Click Here (old server)

    भूमि का रिकॉर्ड, वाद स्थिति, गाटा संख्या-

    Click Here (old server)

    खसरा Code Wise-

    Click Here (old server)

    खतौनी की नकल-

    Click Here (old server)

    Main Website-

    Click Here


    purani khatauni - पुरानी खतौनी

    khatauni kaise check kare-खतौनी कैसे चेक करेंसरकारी रिजल्ट खतौनी खसरा नकल - Sarkari result khatuni khasara nakalउद्धरण खतौनी - khatauni udaharanखतौनी गाटा संख्या - Khatauni Gata sankhya खसरा खतौनी - Khasara Khatauniखतौनी नकल - Khatauni Ki Nakalफर्द खतौनी - Fard Khatauni Kaise check karenkhatauni ki pramanit prati - खतौनी की प्रमाणित प्रति

    khatauni udaharan - उदाहरण खतौनी

    sarkari result khatauni - सरकारी रिजल्ट खतौनीkhasra khatauni up - खसरा खतौनी उपchakbandi khatauni - चकबंदी खतौनीlokwani bhulekh - लोकवाणी भूलेख

    khasra naksha up - खसरा नक्शा उप

    खतौनी नकल उत्तर प्रदेश - khatauni nakal uttar pradesh यू पी भूलेख नकल खतौनी - up bhoolekh nakal khatauni खतौनी क्या है - khatauni kya hai खतौनी देखना है - khatauni dekhana यू पी भूलेख खतौनी - up bhoolekh khatauni

    भूलेख खतौनी उत्तर प्रदेश - bhoolekh khatauni uttar pradesh

    खतौनी दिखाओ - khatauni dikhao खतौनी नकल - khatauni nakal भूगोल खतौनी - bhoogol khatauni यू पी खतौनी - u p khatauni

    Difference between Khasra and Khatauni in Hindi - खसरा और खतौनी में क्या अंतर है?

    दोस्तों ये और कुछ नहीं बल्कि खेती से जुड़ी कुछ जानकारी हैं जिनके अनुसार कानून पुरे नियमों को पालन करने का आदेश देती हैं और उसी अनुसार खेती की लिखापढ़ी की जाती है।

    खसरा क्या है? What is Khasra in Hindi?

    खसरा एक कानूनी कृषि दस्तावेज होता है, जिसे भारत में इस्तेमाल किया जाता है. इसका कार्य भूमि और फसल के विवरण को निर्दिष्ट करना होता है. ये मुख्य रूप से “सभी क्षेत्रों और उनके क्षेत्रों की माप, कौन मालिक है और क्या किसानों को रोजगार है, कौन कौन सी फसल उगाई जाती है, किस तरह की मिट्टी है और कौन से पेड़ जमीन लगे हैं” इन सब बातों का विस्तार से वर्णन करता हैं।

    अब बात यदि खसरा नंबर की करे, तो ये नंबर राज्य के राजस्व विभाग द्वारा निरूपित भूमि पार्सल पहचान संख्या है. ये संख्या एक गांव के भीतर अद्वितीय होने की सबसे बड़ी उम्मीद होती है. यदि इसमें किसी प्रकार की त्रुटि पायी जाती है तो इसे ठीक करने के लिए अपने नजदीकी भूमि रिकॉर्ड कार्यालय या एनआईसी से संपर्क किया जा सकता है.

    खतौनी क्या है ? What is Khatauni in Hindi?

    खतौनी से तातपर्य एक गाँव के खसरों पर आधारित एक सार है, जो गांव में किसी व्यक्ति या परिवार के सभी होल्डर्स को सूचीबद्ध करता है. इसमें ओनर के अलावा यदि किसी और द्वारा खेती कराई जा रही है, तो वो भी सूचि में शामिल होगा. इसमें कौन सी खेती, कैसी जमीन है, सिचाई की सुविधा, पहले से कहीं गिरवी तो नहीं है जैसी सभी चीजें आती हैं. यदि आसान शब्दों में समझाया जाये तो सभी खसरे जो किसी व्यक्ति के हैं, उस व्यक्ति की खतौनी में सूचीबद्ध होंगे।